चंबा के कुछ अद्भुत रहस्य और पर्यटन स्थल- हिमाचल प्रदेश पर्यटन

चंबा भगवान शिव की भूमि है जो अपने अनछुए प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जानी जाती है यह हिमाचल प्रदेश का एक छोटा सा पर्यटन स्थल है जो अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है यहां पर बहुत सी ऊंची ऊंची चोटियों स्थित है जो पर्यटकों के दिलों को खूब लुभाती हैं चंबा तक पहुंचने के लिए आपको बहुत ज्यादा रोमांचक सफर से भरे हुए रास्तों से गुजरना पड़ेगा जो आपको थोड़ा सा डरा भी सकती हैं और आपके मन को लुभा भी सकते हैं चंबा भारत के एक नगर का नाम है जो अपने रमणीय मंदिरों और हैंडीक्राफ्ट के लिए सर्व विख्यात है रवि नदी के किनारे पर 1996 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चंबा पहाड़ी राजाओं की एक प्राचीन राजधानी थी चंबा को राजा वर्मन ने 920 ईस्वी में स्थापित किया था यदि आप चंबा के कुछ खूबसूरत पर्यटन स्थलों और अद्भुत रहस्य के बारे में जानना चाहते हैं तो वह इस प्रकार से हैं

1. BHARMOUR-  भरमौर चंबा से 60 किलोमीटर की दूरी पर बड़े-बड़े पहाड़ों की गोद में और हरे-भरे पेड़ों के बीच में बसा हुआ एक छोटा सा गांव है यहां पर देखने लायक सबसे खूबसूरत जगह है मणि महेश जी जो भगवान शिव को समर्पित है और जिस में नहाने के लिए हर साल सितंबर से अक्टूबर महीने के बीच में लाखों श्रद्धालु भारत के अन्य राज्यों से आते हैं  यह झील समुद्र तल से 4080 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है ऐसा माना जाता है कि यह झील भगवान शिव ने माता पार्वती के साथ शादी करने के बाद बनाई थी झील का निचला भाग गौरीकुंड के नाम से जाना जाता है

2. CHAURASI TAMPLE-  भरमौर बस स्टैंड से मात्र 400 मीटर की दूरी पर स्थित इस मंदिर के बारे में ऐसा माना जाता है कि यह मंदिर मौत के देवता यमराज का इकलौता मंदिर है और मौत के बाद हर आत्मा सर्वप्रथम यहां पर आती है

3. BHRMANI MATA TAMPLE- यह भरमौर से मात्र 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और ऐसा माना जाता है कि मणिमहेश की यात्रा सर्वप्रथम यहां पर स्थित कुंड में स्नान करने के बाद ही शुरू होती है इसके बिना मणिमहेश की यात्रा का कोई भी महत्व नहीं है

4. HADSAR WATER FALL- मणिमहेश यात्रा करते समय यह वाटरफॉल हर सतनाम के काम के पास स्थित है जो कि पर्यावरण की खूबसूरती को अपने ही अंदाज में बयां करता है यह वाटरफॉल शहर से लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है

5. KHAJJIAR- खजियार डलहौजी से 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित चीड़ देवदार के जंगलों से घिरी हुई एक खूबसूरत जगह है चंबा घूमने वाला हर पर्यटक खजियार की खूबसूरती का आनंद लेना नहीं बोलता है स्वेज राजपूत ने यहां की खूबसूरती से आकर्षित होकर 7 जुलाई 1992 को खजियार को हिमाचल प्रदेश के मिनी स्विट्ज़रलैंड के उपाधि दी थी यहां पर खजियार लेक भी है जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करने का मुख्य स्त्रोत है इस झील के चारों तरफ बहुत ही मुलायम घास है जो खजियार को सुंदरता प्रदान करती है वैसे तो खजियार में हर तरह के  खेलों का आयोजन किया जाता है लेकिन अगर आप  golf के शौकीन हैं तो यह जगह आपको और भी ज्यादा पसंद आयेगी

6. DIANKUND PEAK- ध्यान कौन पीक समुद्र तल से 2755 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है यह शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहां से डलहौजी की प्राकृतिक सौंदर्य देखने को मिलती है इस शिखर पर खड़े होकर आप पूरे घाटे का 360 डिग्री पर खूबसूरत नजारा देख सकते हैं

7. KALATOP WILD LIFE SENCTURY- इसे कालाटॉप खजियार वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के नाम से भी जाना जाता है यह सेंचुरी खजियार में स्थित है इसलिए से चारों तरफ से देवता के देवदार के जंगल से से की हुई सेंचुरी है यह सेंचुरी 1962 हेक्टेयर क्षेत्र में फैली हुई है

8. DALHOUSIE- डलहौजी को 1800 में एक ब्रिटिश गवर्नर ने लॉर्ड डलहौजी  ने स्थापित किया था ताकि वह गर्मियों के दिनों में कुछ सुकून के पल यहां पर बिता सकें यह डलहौजी पर्यटन का एक खूबसूरत स्थान है जो साल के ज्यादातर महीने ठंडा ही रहता है डलहौजी पांच पहाड़ियों पर बना हुआ एक नगर है जिसकी खूबसूरती देखने के लिए देश और विदेश के लाखों पर्यटक आते हैं

9. PANCHPULA- यहां के पंचकूला और सुभाष बावली में अजीत सिंह और सुभाष चंद्र बोस ने आजादी के लिए कई प्रयास किए थे आप यहां पर आकर ना केबल धार्मिक व प्राकृतिक स्थानों का आनंद ले सकते हैं बल्कि साहसिक खेलों का भी आनंद ले सकते हैं गांधी चौक यहाँ की विशेषता है

10. BHURI SINGH MUSEUM- यहां संग्रहालय 24 सितंबर 1708 ईस्वी को खुला था 1908 से 1919 ईस्वी तक राज करने वाले राजा भूरी सिंह के नाम पर इसका नाम पड़ा इस संग्रहालय में पुराने समय की बहुत सी चीजें संभाल के रखी गई है जिसको यहां पर आकर कोई भी देखो पड़ सकता है

11. CHAMPAVATI TAMPLE-  यह मंदिर आजा बर्मन की पुत्री को समर्पित है मंदिर को शिखर शैली में बनाया गया है और मंदिर के पत्थरों पर खूबसूरत नक्काशी की गई है और छत को पहिया नुमा बनाया गया है जो देखने में पर्यटकों के दिलों को युवा नेता है

12. BANIKHET- डलहौजी से 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है बनीखेत चंबा के मुख्य आकर्षण स्थानों मैं स्थित है जो चंबा पर्यटन की खूबसूरती को बयान करता है इसे चंबा जिले के प्रत्येक प्रवेश द्वार के रूप में भी जाना जाता है और यहां पर बॉलीवुड की कई फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है

 यदि आपको चंबा पर्यटन स्थल अच्छा लगा और आप हिमाचल प्रदेश के कुछ अन्य पर्यटन स्थलों के बारे में जानना चाहते हैं तो आप इस दिए गए लिंक पर क्लिक करें

मुझे फोलो करें:-           

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

If you have any dought plz let me know